दोस्तों क्या आप पान खाना पसंद करते है? मैं तो करता हूँ लेकिन सिर्फ कभी-कभी, और अगर आप पान नहीं खाते है तो आपको भी कभी-कभी पान खा लेना चाहिए, आपको शायद ही पता होगा की Betel leaf मतलब पान के पत्तों में कैंसर जैसी बीमारी को दूर करने से लेकर सरदर्द, चोट, कब्ज, सूजन, खुजली आदि को दूर करने की ताकत हैं। चलिए जानते है पान के सेवन से कैसे हमारे स्वस्थ्य में लाभ मिलता है।

betel leaf

पान पाचन शक्ति को बढ़ाता है

राजा-महाराजाओं के समय की बात करते तो वे लोग भोजन के पश्चात पान का सेवन जरूर किया करते थे, क्योंकि इसका मुख्य कारण है पान खाने से पाचन क्रिया ठीक रहती है, पान हमारे शरीर में salivary glands को सक्रिय करके लार बनाने का काम करता है और ये लार भोजन को छोटे-छोटे टुकड़ों में तोड़ने का काम करती है जिससे भोजन आसानी से पच जाता है।

कब्ज और अल्सर जैसी बीमारियों में है फायदेमंद

पान की पत्तियां चबाने से कब्ज की समस्या को काफी हद तक कम किया जा सकता है, साथ ही साथ गैस्ट्रिक अल्सर को ठीक करने के लिए भी पान खाना काफी फायदेमंद है।

मुंह की दुर्गध से छुटकारा पाने के लिए पान है फायदेमंद

अगर आप पायरिया, या फिर मुहं से आने वाली बदबू से परेशान है तो पान का इस्तेमाल इस समस्या का रामबाण इलाज़ है, पान के पत्तों के औषधीय तत्व बैक्टीरिया के प्रभाव को कम करता है और दांतों को स्वस्थ रखने में मदद करता है। पान खाने से लार में उपस्तिथ एस्कॉर्बिक एसिड का लेवल भी सामान्य रहता है जिससे मुहं सम्बन्धी कई बीमारिया होने का खतरा कम हो जाता है।

सर्दी और कफ से मिलता है आराम

अगर आप सांस लेने की समस्या, अस्थमा जैसी समस्या से परेशान है तो पान के पत्ते आपकी समस्या को काफी हद तक कम कर सकते है। अगर आपको सर्दी लगी है तो आप पान के पत्ते को शहद के साथ मिलाकर खा सकते है।

सर दर्द में है फायदेमंद

पान में उपस्थित एनालजेसिक (analgesic) गुण सिर दर्द में फायदेमंद साबित होता है।

पान के उपयोग से हो सकता है घाव ठीक

पान के पत्ते में उपस्थित औषधीय गुणों के कारण इसका उपयोग घावों व संक्रमण का इलाज़ करने के लिए किया जाता है। पान की पत्तियों को पीस कर रस निकाल के घाव वाली जगह पर लगाने से किसी तरह का संक्रमण नहीं फैलता और घाव जल्दी ठीक हो जाता है।

पान खाने के ये हैं नुकसान

किसी भी चीज की अति अर्थात जरुरत से ज्यादा उपयोग हमेशा नुक्सान करता है, हालाँकि पान के पत्ते में कई औषधीय गुण है लेकिन इसका जरुरत से ज्यादा इस्तेमाल हमारी सेहत के लिए नुक्सान-दायक हो सकता है, पान के साथ तम्बाकू या फिर मसाला खाने पर मुहं का कैंसर, गले का कैंसर अदि हो सकता है।

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY